हिंदी की मशहूर लेखिका कृष्णा सोबती का शुक्रवार को निधन हाे गया।

हिंदी की मशहूर लेखिका कृष्णा सोबती का शुक्रवार को निधन हाे गया।

नई दिल्ली.मशहूर लेखिका कृष्णा सोबती का शुक्रवार को यहां 93 साल की उम्र में निधन हाे गया। सोबती ने लेखन की शुरुआत कविताओं से की थी, लेकिन बाद में उनका रुख फिक्शन की ओर हो गया। बादलों के घेरे उनका कहानी संग्रह है। डार से बिछुड़ी, मित्रो मरजानी, यारों के यार, तिन पहाड़, सूरजमुखी अंधेरे के, सोबती एक सोहबत, जिंदगीनामा, ऐ लड़की, समय सरगम, जैनी मेहरबान सिंह उनके उपन्यास हैं।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles

Leave a Reply