लंदन के एक अस्पताल में डॉक्टरों ने फेफड़े के कैंसर से पीड़ित ऐसे नौ मरीजों को जीवनदान दिया है

लंदन।  ‘माइक्रोवेव एबलेशन’ नामक इस तकनीक को इस मर्ज के लिए भविष्य का रामबाण माना जा रहा है।इस तकनीक में सीने में न तो चीरा लगाने की जरूरत होती है और न ही प्रभावित फेफड़े को काटा जाता है। जिन नौ मरीजों का इस तकनीक से इलाज किया गया, वे सब पिछले एक साल से स्वस्थ जीवन जी रहे हैं।

लंदन के सेंट बार्थोलोम्यू अस्पताल के डॉक्टरों ने फेफड़े के कैसर से पीड़ित ऐसे नौ मरीजों का इस नई तकनीक से इलाज किया जिनके ऊपर परंपरागत शल्य चिकित्सा का तरीका अपनाया नहीं जा सकता था। साथ ही रेडियोथेरेपी भी उनके ऊपर असरहीन हो चुकी थी।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles

Leave a Reply