मुख्य सचिव द्वारा राजस्व विभाग के तीन अधिकारी बर्खास्त

मुख्य सचिव द्वारा राजस्व विभाग के तीन अधिकारी बर्खास्त

नई दिल्ली-राकेश कुमार
समाधानवाणी
मुख्य सचिव विजय कुमार देव ने भ्रष्टाचार के आरोप में तीन राजस्व विभाग के अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया है।बर्खास्त किये गए राजस्व विभाग के पंजीयक द्वितीय पंजाबी बाग,नांगलोई और तहसीलदार महरौली व प्रीतविहार के हैं।
मुख्य सचिव के अनुसार पंजाबी बाग नांगलोई के तत्कालीन उप पंजीयक को टिकरी कला गांव में2013 मे अतरिक्त जिला अधिकारी से अनापत्ति प्रमाण पत्र हासिल किए बिना कृषि भूमि का विक्रय पत्र पंजीकृत करने के आरोप में हटाया हैं।जबकि प्रीतविहार के तत्कालीन तहसीलदार को गलत स्थिति रिपोर्ट देने के आरोपो मे आवश्यक सेवानिवृत्ति दे दी है।जबकि प्रीतविहार के तत्कालीन तहसीलदार को गलत रिपोर्ट देने के आरोप मेआवश्यक सेवानिवृत्ति दे दी है।2011/12 मे एक सरकारी जमीन व ग्राम पंचायत की जमीन की खरीद फिरोद की गलत रिपोर्ट दी थी और एक अन्य अधिकारी को सताइस बीघा जमीन सरकारी खाते में न चढ़ाने के कारण आवश्यक सेवानिवृत्ति दे दी है।2013/14 मे डीडीए की जमीन का अधिकार डीडीए को सौप देने के बाद भी वही जमीन अभी निजी पक्ष के रिकॉर्ड में दर्शा रहे थे।विजय देव की गिनती ईमानदार व तेज तर्रार आई ए एस अधिकारी के रूप में होती हैं।अपनी कार्यशैली को लेकर वो हमेशा चर्चा में रहे हैं।जिस विभाग को भी उन्होंने संभाला हैं उस विभाग में बेईमान और भ्रष्टाचार लोगों को किसी भी प्रकार से बख्शा नहीं गया है।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles

Leave a Reply