मासूम की मौत की कीमत मात्र दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के चालान।

मासूम की मौत की कीमत मात्र दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के चालान।

नई दिल्ली-वेस्ट-राकेश कुमार
समाधानवाणी
हाल मे ही कुछ दिन पहले जनकपुरी बुध बाजार रेड लाइट के क्रॉसिंग के पास एक मासूम ( सरोज 11 वर्ष)को एक स्कूली वैन ने जबरदस्त टक्कर मार दी थी। इस हादसे में मासूम बच्चे की मौत हो गई थी।जोकि जनकपुरी के सरकारी स्कूल में पांचवी कक्षा का छात्र था तथा उत्तमनगर के कुम्हार कॉलोनी मे अपने परिवार के साथ रहता था।वारदात के बाद वैन चालक वैन को लेकर फरार हो गया
पुलिस के अनुसार मृतक के घर में पिता गगन, माँ सरिता व एक भाई मनोज भी हैं।गगन लेबर का काम करता है व सरिता मकानों में सफाई का काम करती हैं।मासूम की माँ अभी तक बेसुध हैं उसे तो यकीन ही नही हो रहा कि जिस बेटे को वो रोज स्कूल छोड़ने जाया करती थी वो ही उन्हें छोड़कर चला जायेगा।पिता गगन का कहना है कि उनका बेटा सरोज पढ़ने में होशियार था वो उसे पढ़ा लिखा कर बड़ा आदमी बनाना चाहते थे
इस हादसे के घटित होने के बाद ट्रैफिक पुलिस ने नियमों का पालन नही करने वाली स्कूली वैनो को रोड पर आने पर रोक लगा दी।जिससे स्कूली बच्चों को स्कूल तक पहुंचने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।अभी इस हादसे को बीते कुछ घंटे ही हुए थे कि फिर से वही स्कूली वैनो का तांडव शुरू हो गया क्योंकि दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने तो स्कूली गाड़ियों को नियमों को तोड़ने की मंथली गारंटी जो दे रखी है।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles

Leave a Reply