दिनदहाड़े उत्तमनगर से लूट के मामले मे दिल्ली बॉडी बिल्डर चढ़ा पुलिस के हत्थे।

दिनदहाड़े उत्तमनगर से लूट के मामले मे दिल्ली बॉडी बिल्डर चढ़ा पुलिस के हत्थे।

नई दिल्ली-राकेश कुमार
जिला द्वारका की स्पेशल स्टाफ पुलिस टीम ने दो लोगों को गिरफ्तार कर उत्तमनगर से लगभग चार लाख उन्हत्र हजार की लूट की वारदात को चौबीस घंटों के अंदर सुलझा लेने का दावा किया हैं।
जिला द्वारका की स्पेशल पुलिस टीम एसीपी जोगिंदर जून की संरक्षण मे इंस्पेक्टर नवीन कुमार की देखरेख मे एसआई रंजीव त्यागी, एएसआई हंस, उमेश हवलदार अनिल ,सुमित व सिपाही कुलभूषण, राजकुमार व उपेंद्र की टीम गठित कर उत्तमनगर इलाके मे लूट की वारदात को अंजाम देने वालो को सीसीटीवी फुटेज व अन्य सूचना तंत्रों से खोजबीन कर रहे थे।
पुलिस के अनुसार 9/12/2019 को 3.30pm पर थाना उत्तमनगर को लूट की सूचना मिली।मौके पर पहुँची पुलिस टीम को खबर देने वाले ने अपना नाम दीपक बंसल बताया जो कि उत्तमनगर मे डिपार्टमेंटल स्टोर व दूध का व्यापार करता हैं। वो बैंक मे लगभग चार लाख उन्हत्र हजार रुपए जमा कराने जा रहे थे कि तभी स्कूटी पर सवार दो लोग आए और गनपॉइंट पर उनसे रुपए लूट कर भाग गए हैं।इसकी तफ्तीश स्पेशल स्टाफ पुलिस को सौपी गई।
स्पेशल स्टाफ को गुप्त सूचना मिली कि लूट मे एक नामी बॉडी बिल्डर शामिल है तथा वो दूसरी लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए उत्तमनगर दाल मिल रोड़ पर घूम रहा है खबर मिलते ही पुलिस टीम बताई गई जगह के आसपास घूम रही थी तभी उन्हें दो शख्स बताए गए हुलिये से मिलते जुलते घूमते नज़र आये तो पुलिस टीम ने उन्हें रोककर पूछताछ करने की कोशिश करी तो वो संतोष जनक उत्तर न दे पाए।तो पुलिस ने जब शक्ति से पूछताछ करी तो दोनों ने लूट की बात स्वीकार कर ली।
पुलिस पूछताछ मे लूटेरों ने अपना नाम राहुल चौधरी व विपिन गुप्ता होना बताया । राहुल उत्तमनगर इलाके मे एक जिम चलाता है तथा वो एक नेशनल लेबल का बॉडी बिल्डर हैं तथा कई वर्ष तक मिस्टर दिल्ली भी रह चुका हैं।उसके पिताजी एक कंस्ट्रक्शन बिल्डर हैं मगर काफी समय से उनका कारोबार ठीक से नही चल रहा था तथा राहुल का जिम भी ठीक नही चल रहा था।पैसों की कमी के चलते व अपने शोको को पूरा करने के लिये अपने जिम के साथी विपिन गुप्ता के साथ मिलकर लूट जैसी वारदात को अंजाम दिया।
पुलिस ने इनके पास से एक आधुनिक पिस्टल ,एक खिलौना पिस्टल, चार जिंदा कारतूस, तीन लाख पैसठ हजार रूपए कैश तथा वारदात मे शामिल एक स्कूटी बरामद कर लूटेरो पर मुकदमा दर्ज कर कोर्ट मे पेश कर जेल भेज दिया हैं।चौबीस घंटे के अंदर लूट जैसी वारदात को अंजाम देने वालो को सलाखों के पीछे भेजने का काम वाकई पुलिस का काबिले तारीफ हैं।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles

Leave a Reply