जिला द्वारका पुलिस की गिरफ्त मे दो सेंधमार।

जिला द्वारका पुलिस की गिरफ्त मे दो सेंधमार।

नई दिल्ली-राकेश कुमार
समाधानवाणी
द्वारका स्पेशल स्टाफ पुलिस की टीम ने दो सैंधमारो को गिरफ्तार किया है।जिसका नाम सलीम मलिक उम्र 26 वर्ष बिंदापुर नियर मदीना मस्जिद नई दिल्ली का रहने वाला है।जबकि दूसरा छोटा सेंधमार एक नाबालिग उम्र 15 वर्ष होना पाया गया है।
जिला द्वारका डीसीपी के अनुसार द्वारका जिले मे आये दिन सेंधमारी की शिकायतें मिल रही थीं।जिसमें की फ्लैट, फ्लोर, कॉलोनी के मकानों आदि से सेंधमार चोरों की वारदातें मिल रही थी।सेंधमार चोरों के कारनामे बढ़ते जा रहे थे।इन सैंधमारो को पकड़ने के लिए एसीपी राजेन्द्र यादव के संरक्षण मे इंस्पेक्टर नवीन कुमार की देखरेख में एस आई रंजीव त्यागी, एएसआई महावीर, हंस, उमेश व हवलदार राजकुमार, सिपाही संदीप, जगदीश व कुलभूषण की टीम बनाकर सैंधमारो की जानकारी जुटानी शुरू कर दी।घटनाओं वाली जगहों पर जाकर व अपने सूचना तंत्रो से पुलिस ने जानकारी जुटानी शुरू कर दी। तभी पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि दो सेंधमार चोर पुराने पालम रोड़ पर घूम रहे हैं।पुलिस ने मुखबिर द्वारा बताई सूचना थाना उत्तमनगर के साथ सांझा कर मिलकर एक संयुक्त टीम बनाकर बताई गई जगह एस एम सैलून, पुराना पालम रोड़, ककरौला नई दिल्ली पर ट्रैप लगाकर खड़े हो गए।पुलिस को एक नाबालिग़ पर संदेह होने पर उसे रोक कर पूछताछ करने लगे तो नाबालिग पुलिस को चकमा देने की कोशिश करी।मगर पुलिस के सख्ती से पूछताछ करने व सन्देह होने पर उसकी तलाशी लेने पर पुलिस को उसके पास से एक सोने के झुमके व एक नाक की पिन बरामद करी।छोटे चोर ने बताया कि वह सेंधमारी का काम सलीम मलिक। के लिए करता हैं।नाबालिग से मिलने आने वाली जगह से सलीम को चोरी की स्कूटी के साथ गिरफ्तार कर लिया।पुलिस पूछताछ मे सलीम ने बताया कि वह मूल रूप से बिजनौर उत्तर प्रदेश का रहने वाला है तथा राजस्थान मे NDPC एक्ट मे जेल भी काट चुका है।जेल से आने के बाद सलीम ने एक नाबालिग को अपने साथ मिलाकर सेंधमारी शुरू कर दी।नाबालिग का कम उम्र का होना व दुबला पतला होने के कारण वह नाबालिग को एसी के रास्ते व टूटी हुई दीवारों व अन्य साधनों से मकानों, फ्लैटों, फ्लोरो मे आसानी से घुसा देता था तथा खुद बाहर खड़े होकर चौकीदारी करता था।छोटा सेंधमार घरों से कीमती सामान व ज्वेलरी को अपना निशाना बनाता था।ज्वेलरी को वो किसी सुनार को बेच देते थे तथा बाकी सामान को बाजार में अजनबी लोगों को सस्ते दामों मे बेच देते थे।पुलिस ने इनके पास से एक चोरी की स्कूटी, तीन LED टीवी, आठ मोबाइल फोन, एक जिओ वाईफाई ,एक USB हब, पांच हाथ की घड़ी व सोने व चांदी के आइटम बरामद कर पुलिस ने बिंदापुर थाने के दो व चार उत्तमनगर थाने के सेंधमारी के केसों को सुलझाने का दावा किया हैं।

administrator, bbp_keymaster

Related Articles

Leave a Reply