गन्दगी अर्थात बिमारी का घर

गाजियाबाद | देश भर की एक ही समस्या जिसे “गन्दगी अर्थात बिमारी का घर” नाम दिया गया है वो है जल भराव, जल भराव की तरफ शासन प्रशासन आँख मूंदे पड़ा है इसमें सबसे बड़ी लापरवाही नगर निगम, नगर पालिका या नगर परिषद् की है | आम जनता भी कम दोषी नहीं है जो कचरा पिन्नियों में भरकर जहाँ तहां फेंक देती है चाहे वो खाली मकान हो या खंडहर या खाली मैदान | हर जगह जहाँ देखो वहां गन्दगी ऐसी गन्दगी जिसमे बदबू और सडन आती है | प्रशासन इसलिए दोषी है कि वह कूड़ेदान के रखरखाव और सफाई के मामले में लापरवाह है | यह जो विडियो है यह केवल एक स्थान की नहीं है देश भर में जहाँ देखोगे वहां आपको ऐसी या इससे भी अधिक गन्दगी आपको देखने को मिल जाएगी |  यह विडियो गाजियाबाद के क्षेत्र मोदीनगर उत्तर प्रदेश रेलवे रोड के पास नेशनल हाईवे एक तालाब की है | नियमानुसार तालाब, नदी-नाले और कूड़ाघरों की सफाई 10 तारीख तक हो जानी चाहिए, इस हाईवे पर हर साल कांवड़ियों का मेला चलता है जिससे उन्हें भी बीमारी लगने का ख़तरा है | इस तालाब का दृश्य प्रशासनिक लापरवाही का परिणाम है | इस स्थान पर सौंदर्यीकरण किया जा सकता है यहाँ पर वृक्षारोपण करवाकर इस स्थान को सुन्दर बनाया जा सकता है| समाधान वाणी के वरिष्ठ पत्रकार जे के विक्रम की एक रिपोर्ट|

administrator, bbp_keymaster

Related Articles

Leave a Reply