किसानों की बात, लेकिन ‘शहीद’ के दर्जे पर फंस गया पेच CM खट्टर से मीटिंग

किसानों की बात, लेकिन ‘शहीद’ के दर्जे पर फंस गया पेच CM खट्टर से मीटिंग

हरियाणा सरकार किसानों के ऊपर दर्ज मामले को वापस लेने को तैयार हो गई, लेकिन ‘शहीद’ के दर्जे पर पेच फंस गया किसान संगठनों और हरियाणा सरकार के बीच शुक्रवार को बातचीत के दौरान एक स्पष्ट नतीजा निकलते-निकलते रह गया. किसान नेताओं ने आजतक को बताया कि हरियाणा की खट्टर सरकार सैद्धांतिक रूप से किसानों पर दर्ज केस को वापस लेने पर तैयार हो गई थी पिछले एक साल के दौरान मृत किसानों को शहादत का दर्जा देने पर फंस गया. खट्टर सरकार ने किसानों की मांग को सिरे से खारिज कर दिया. सरकार किसानों को शहीद का दर्जा देने पर विचार नहीं कर रही है. वहीं केस वापस लिए जाने पर आजतक को सूत्रों ने बताया कि खट्टर सरकार किसानों के ऊपर से उन मामलों को वापस नहीं लेना चाहती थी, जहां गंभीर धाराएं लगाई गई थी. किसान आंदोलन के दौरान 702 किसानों ने अपनी जान गंवाई है. किसान सरकार से इन किसानों से शहीद का दर्जा देने की मांग कर रहे हैं. इसके अलावा वे किसानों के लिए मुआवजे की भी मांग कर रहे हैं

administrator, bbp_keymaster

Related Articles

Leave a Reply